Thursday, 12 May 2016

करप्शन


आजकल तो अधिकतर बिल्डर या तो नेता हैं या फिर पॉलिटिक्स से जुड़े लोग। इन पर शिकंजा कसना मुश्किल ही नही नामुमकिन है।


(यह पत्र नवभारत टाइम्स में 11 नवम्बर 2012 को प्रकाशित हुआ)