Thursday, 12 May 2016

सरनेम


पति का सरनेम अपने नाम के साथ जोड़ लेना काफी पुरानी परंपरा है। आजकल एक ऑप्शन के तौर पर लड़कियां अपने नाम और सरनेम के साथ पति का सरनेम भी जोड़ लेती हैं। दो परिवारों के साथ जुडी लड़की की पहचान दोनों सरनेम को रखने में है। दोनों सरनेम रखने को समाज मान्यता दे, यही सुझाव है।


(यह पत्र नवभारत टाइम्स में 30 अक्टूबर 2012 को प्रकाशित हुआ)