Sunday, 3 April 2016

गर्व की बात


ऑस्कर के बाद ग्रैमी अवार्ड से नवाजे जाने पर संगीतकार ए. आर.रहमान का कद और ख्याति और बढ़ गई है। इन दोनों पुरस्कारों का माध्यम डैनी बॉयल की फ़िल्म 'स्लम डॉग मिलेनियर' भले ही हो, पर हमें यह नही भूलना चाहिए कि रहमान का संगीत देश-विदेश में पहले से लोकप्रिय रहा है। अवार्ड सिर्फ उनके योगदान पर एक मुहर है। भारतियों के लिए यह सचमुच गर्व की बात है कि उनके यहां के किसी संगीतकार को दुनिया भर में लोग पसंद कर रहे हैं। यह भी है कि वैश्विक स्तर पर ए. आर.रहमान के संगीत के पुरस्कृत होने के बाद लोगों की खुद रहमान से उम्मीदें और बढ़ गई हैं।

(यह पत्र नवभारत टाइम्स में 11 फरवरी 2010 को प्रकाशित हुआ।)