Sunday, 14 February 2016

पेंशन फंड का पैसा


थोड़े-थोड़े समय बाद सरकार पेंशन फंड के बारे में फैसला सुनाती रहती है कि अधिक रिटर्न के लिए स्टॉक मार्किट में निवेश की इज़ाज़त देगी। हमें इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि पेंशन की शुरुआत सामाजिक सुरक्षा कवच के रूप में हुई थी। रिटायरमेंट के बाद जब आय और काम करने की क्षमता कम हो जाती है, तब रोज़मर्रा की जरूरतों की पूर्ति के लिए पेंशन की रकम काम आती है। इसलिए पेंशन का पैसा सुरक्षित स्थानों पर ही निवेश होना चाहिए। स्टॉक मार्किट आज तेजी पर है, लेकिन इसका इतिहास हमें बताता है कि यह किसी फिक्स सिद्धान्त पर नहीं चलता। जब सेंसेक्स गिरता है तब लोग तेजी भूल जाते हैं। अधिक रिटर्न तो दूर, मूलधन का भी कहीं अता पता नहीं होता। ऐसे में सरकार को पेंशन फंड को अपने वर्तमान स्वरूप में छोड़ देना चाहिए।

(यह पत्र नवभारत टाइम्स में 3 फरवरी 2007 को प्रकाशित हुआ।)