Monday, 1 June 2015

सिर्फ पुलिस की नहीं जिम्मेवारी


आम जनता के सहयोग के बिना आतंकवाद पर जीत असंभव है। ओखला बस के सतर्क यात्रियों ने एक बड़ी दुर्घटना को बचा लिया और पुलिस को आतंकवादी का हुलिया भी दिया। जनता का जागरूक रहना बहुत जरुरी है और लोगों को अपनी रक्षा खुद करनी होगी।


(यह पत्र नवभारत टाइम्स में 7 नवम्बर 2005 को प्रकाशित हुआ।)